Common Man’s Interface For  Welfare Schemes(External Website that opens in a new window)

Uttarakhand Goverment Portal, India (External Website that opens in a new window) http://india.gov.in, the National Portal of India (External Website that opens in a new window)

Hit Counter 0000480266 Since: 06-09-2012

Women Development

Child Development Wing

National Voter's service Portal

World Disabled Day

Print

दिनांक 03 दिसम्बर, 2012 को अन्तर्राष्ट्रीय विकलांगता दिवस पर बाल कल्याण निधि-महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग, उत्तराखण्ड द्वारा संस्था सरोकार के सहयोग से कार्यक्रम नन्ही मुस्कान के तत्वाधान में निशक्त बच्चों के शैक्षिक भ्रमण हेतु यात्रा को महिला एवं बाल विकास विभाग के निदेशक श्री चन्द्र सिंह नपलच्याल एवं बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष, श्री अजय सेतिया तथा राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष, श्रीमती सुशीला बलूनी की गरिमामयी उपस्थिति में हरी झंडी दिखाकर बस यात्रा का शुभारम्भ किया गया उक्त कार्यक्रम बाल कल्याण निधि के तहत निर्धारित निम्न् उद्देश्यों:-

-बच्चों के लिये अनौपचारिक गतिविधियाँ जैसे सजृनात्मक, अनुभव, जिज्ञासा, सामान्य, समझ, समानता, सम्मान, का भाव, सृजनशीलता, आत्म गौरव, पारस्पारिक सहभागिता, नैतिक मूल्यों का विकास, समुदाय के प्रति जागरूकता, संकल्पनाओं का उद्बोध एंव शैक्षिक आदि से सम्बन्धित गतिविधियों का विकास करना।

-बाल कल्याण सम्बन्धी व्यवहार परिर्वतन सम्प्रेषण की विविध गतिविधियों को प्रोत्साहन, जिनके माध्यम से समाज में बाल अधिकारों के प्रति सकारात्मक वातावरण तैयार हो सके। साथ ही बाल विकास के मुद्दों पर कार्यशालाओं, अध्ययन भ्रमणों, सूचना शिक्षा संचार गतिविधियों को प्रोत्साहित करना, इत्यादि के तहत् विकलांग बच्चों के साथ इस कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की गयी।

      उक्त कार्यक्रम में उत्तराखण्ड के क्रमश: 06 जनपदों टिहरी गढ़वाल, पौड़ी गढ़वाल, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग, देहरादून एवं हरिद्वार से आये बच्चों द्वारा प्रतिभाग किया गया है। इस 02 दिवसीय कार्यक्रम के प्रथम दिवस में बच्चों को हरिद्वार, ऋषिकेश के धार्मिक एवं ऐतिहासिक स्थलों का दर्शन व शैक्षिक भ्रमण कराया जायेगा, साथ ही अभिनव कार्यक्रम के तहत नृत्य, संगीत एवं चित्रकला से सम्बन्धित गतिविधियों का आयोजन कराया जायेगा।

द्वितीय दिवस दिनांक 04.12.2012 को बच्चों एवं उनके अभिभावकों के साथ परामर्श दिवस का आयोजन करते हुए मा0 मुख्यमंत्री जी, उत्तराखण्ड के कर कमलों द्वारा बच्चों को पुरस्कार/सम्मानित कर कार्यक्रम का समापन किया जायेगा।

महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग, उत्तराखण्ड के निदेशक श्री चन्द्र सिंह नपलच्याल ने बताया कि ऐसे बच्चे जो शारीरिक या मानसिक रूप से कमज़ोर है, उनके लिए भी थोड़ा मनोरंजन से सम्बन्धित गतिविधियाँ आवश्यक है। ऐसे बच्चों की मनोरंजन की समय-समय पर व्यवस्था करवाने के साथ साथ हम उसे इस बात का एहसास ना होने दें कि वो हम जैसा नहीं है। इससे भाव को मदद्ेनजर रखते हुए हमारा यह एक छोटा सा प्रयास नन्ही मुस्कान कार्यक्रम द्वारा इन मासूम बच्चो के चेहरों पर नन्ही मुस्कान लाने का हैं। इसके तहत इन बच्चों के लिए एक अलग तरह की हरिद्वार यात्रा का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन के तहत बच्चों के लिए श्री प्रेम नगर आश्रम, हरिद्वार मे अलग-अलग क्रिया-कलापो के साथ शाम 6:00 बजे एक विशेष गंगा आरती का आयोजन किया जाएगा।

इस योजना की परियोजना अधिकारी सुश्री आरती बलोदी द्वारा बताया गया कि उत्तराखण्ड बाल कल्याण निधि के तहत् बच्चों के लिये ऐसी गतिविधियाँ जिसमें सृजनात्मक अनुभव, जिज्ञासा, सम्मान का भाव, आत्म-विश्वास, नैतिक मूल्यों का विकास, समुदाय में बच्चों के प्रति जागरूकता, संकल्पनाओं का उद्बोध एवं शैक्षिक सम्बन्धी गतिविधियों को आयोजित करने का प्राविधान है। इस 02 दिवसीय कार्यक्रम में उक्त सभी घटकों को समावेशित करने का प्रयास इस योजना के तहत विभाग द्वारा किया गया है।

संस्था सरोकार के अध्यक्ष श्री पंकज शर्मा ने बताया की शारीरिक या मानसिक विकलांगता की स्थिति में बच्चो को सहयोग की आवश्यकता होती है। इसलिये हमारी संस्था विभाग के सहयोग से इस अन्तर्राष्ट्रीय विकलांगता दिवस पर शारीरिक एवं मानसिक रूप से अक्षम बच्चो को उनके अभिभावकों के साथ हरिद्वार स्थित श्री प्रेम नगर आश्रम में भ्रमण के लिए ले जा रहे हैं जहाँ पर बच्चो को उनकी प्रतिभा के अनुसार कार्यक्रम करवाने के साथ साथ बच्चो और उनकी अभिभावकों की समस्याओं का समाधान हमारे काउंसलर द्वारा किया जायेगा। इन बच्चो की रंगारंग प्रस्तुति उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री निवास पर दिनांक 4 दिसम्बर को 10:30  बजे होगी और माननीय मुख्यमंत्री द्वारा मुख्यंमत्री आवास पर इन बच्चो के प्रोत्साहन के लिए इन्हें सम्मानित किया जायेगा।